बिजनेस

Demat Account कैसे खोलें, डीमैट अकाउंट के फायदे

यदि आप जानना चाहते हैं कि डीमैट अकाउंट क्या है?, Demat Account Kaise Khole? (How To Open a Demat Account in Hindi) और डीमैट अकाउंट के फायदे क्या हैं? तो इस पोस्ट में डीमैट अकाउंट के बारें में बताएँगे.

आज लोग शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कर पैसा कमाना चाहते हैं, क्योंकि शेयर बाजार उचाईयों को छु रहा हैं. आज कई लोग शेयर मार्केट में पैसा लगाने के लिए अपना डीमैट अकाउंट खोल रहे हैं. Shares खरीदने और बेचने के लिए जिस Demat Account की आवश्यकता होती है, उसके बारे में कम ही जानकारी होती है.

डीमैट अकाउंट कैसे काम करता है, इस अकाउंट को खोलने के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स कौन से होते हैं और डीमैट खाते को खोलने के लिए कितनी फीस खर्च करनी पड़ती है. ऐसे कई सवाल हैं जिनका जवाब हर कोई जानना चाहता हैं, क्योंकि शेयर बाजार में डीमैट अकाउंट के बिना ट्रेडिंग नहीं की जा सकती है.

ऐसे में अगर आप भी शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते हैं, तो Demat Account का होना जरूरी है, जानें कैसे खुलता है, क्या होता है चार्ज

डीमैट अकाउंट क्या है? (Demat Account Kya Hai).

जिस तरह से आपका बैंक अकाउंट होता है उसी तरह से डीमैट अकाउंट होता हैं. यह अकाउंट बैंक खाते की तरह काम करता है. Share Market को रेगुलेट करने वाली संस्था SEBI ने निर्देश दिया हैं कि बिना डीमैट अकाउंट के शेयरों को किसी भी अन्य तरीके से खरीदा और बेचा नहीं जा सकता है. अब आप जान गए होंगे कि डीमैट अकाउंट क्या होता है और क्यों जरुरी हैं?

डीमैट अकाउंट की सबसे अच्छी बात यह होती है कि इसे जीरो अकाउंट बैलेंस के साथ भी खोला जा सकता है. इसमें मिनिमम बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है. शेयर बाजार में निवेश के लिए निवेशक के पास बैंक अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और डीमैट खाता होने चाहिए क्योंकि डीमैट खाते में आप शेयरों को डिजिटल रूप से अपने पास रखते है. तो वहीं ट्रेडिंग अकाउंट की मदद से शेयर, म्युचुअल फंड और गोल्ड में इन्वेस्ट किया जा सकता है.

क्या हैं डीमैट अकाउंट के फायदे?

अगर आप डीमैट अकाउंट खोल रहे है तो आपको डीमैट अकाउंट के फायदे भी पता होना चाहिए. आइये जानते हैं कि क्या हैं डीमैट अकाउंट के फायदे?

  • डीमैट अकाउंट होने से ऑनलाइन ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट आसान हो जाता है।
  • डीमैट अकाउंट से शेयरों को आसानी खरीदा और बेचा जा सकता हैं.
  • डीमैट खाते में आप शेयरों को डिजिटल रूप से अपने पास रख सकते है.
  • डीमैट अकाउंट से ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का लाभ उठा सकते है.

कौन खोलता हैं डीमैट अकाउंट

भारत में डीमैट अकाउंट खोलने का काम दो संस्थाएं करती है. जिसमें पहली है NSDL (National Securities Depository Limited) हैं और दूसरी CDSL (central securities depository limited) हैं. इनमे 500 से अधिक एजेंट्स इन depositories के लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी (DP) भी कहा जाता है. इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए क्या हैं पात्रता?

डीमैट अकाउंट ( Demat Account ) खोलने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी यह होता हैं कि जो व्यक्ति शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हैं उसकी उम्र 18 साल से अधिक होनी चाहिए. साथ ही इसके लिए उस व्यक्ति के पास पैन कार्ड, बैंक अकाउंट आइडेंटिटी और एड्रेस प्रूफ होना भी जरूरी है. इसके बाद ही वह व्यक्ति डीमैट अकाउंट ( Demat Account ) खुलवा सकता हैं.

Demat Account Kaise Khole

डीमैट अकाउंट शेयरों में ऑनलाइन निवेश करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है. आप इसे HDFC सिक्योरिटीज, ICICI डायरेक्ट, Axis डायरेक्ट जैसे किसी भी ब्रोकरेज के पास खुलवा सकते हैं. हम आपको यहाँ पर Angle One में डीमैट अकाउंट खोलने का तरीका बताएँगे.

स्टेप 1. Demat अकाउंट खोलने के लिए Angle Brocking साईट पर जाये और Open Demat Account पर क्लिक करें.

Open Demat Account

स्टेप 2. इसके बाद फॉर्म में अपना नाम, मोबाइल नंबर, सिटी डालकर Get Started पर क्लिक करें.

स्टेप 3. अब आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा उसे डाले और OPEN AN ACCOUNT पर क्लिक करें.

स्टेप 4. अगले स्टेप में आपको अपनी पर्सनल डिटेल्स डालना होगा. आप DOB, Pan नंबर और ईमेल आईडी डाले.

स्टेप 5. इसके बाद आप अपना बैंक अकाउंट नंबर, IFSC कोड डाले और PROCEED पर क्लिक करें.

स्टेप 6. अगले पेज में आपको दो आप्शन मिलेंगे. इनमे आप Instant Account Opening With DigiLocker को सेलेक्ट करें और SHARE YOUR KYC DETAILS पर क्लिक करें.

स्टेप 7. इसके बाद आपको KYC के लिए अपना आधार कार्ड नंबर डालना हैं और Next पर क्लिक करना हैं. (आपके आधार कार्ड के साथ मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए)

स्टेप 8. अब आपके आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा. उस OTP को डाले और Continue पर क्लिक करें.

स्टेप 9. अब यह KYC को DigiLocker से कम्पलीट कर लेगा. इसके बाद Allow पर क्लिक करें.

स्टेप 10. इसके बाद आपको अपनी पर्सनल डिटेल्स भरना होगा. इसमें Annual Income, Father’s Name डालकर PROCEED पर क्लिक करें.

स्टेप 11. अगले पेज में आपके फोटो आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ के लिए डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी. यहाँ पर अपना पैन कार्ड का फोटो, सिग्नेचर आदि अपलोड करें. इसके बाद PROCEED पर क्लिक करें.

स्टेप 12. इसके बाद आपको E -Sign करना होगा. इसके लिए Terms को एक्सेप्ट करें और अपना आधार नंबर डाले. इसके बाद Send OTP पर क्लिक करें.

स्टेप 13. अब आपके आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा, उसे डाले और Verify OTP पर क्लिक करें.

स्टेप 14. इसके बाद कैमरा को Allow करके अपने Face का 10 सेकंड का विडियो अपलोड करना होगा. इसके बाद आपका Demat Account बन जायेगा.

इसके बाद आपके नंबर पर डीमैट अकाउंट नंबर और एक क्लाइंट आईडी भेज दिया जायेगा.

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट क्या हैं?

यदि आप शेयर बाजार में निवेश करना चाहते है तो आपको एक डीमैट अकाउंट खोलना होगा. आज आपके पास डीमैट अकाउंट खोलने के लिए कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट होना चाहिए.

  • पैन कार्ड (Pan Card)
  • बैंक अकाउंट (Bank Account)
  • आधार से लिंक मोबाइल नंबर (Aadhar Linked Mobile Number)
  • ई-मेल आई डी (Email ID)

अगर आपके पास बताये गए सभी डाक्यूमेंट्स है तो आप आसानी से Demat अकाउंट खोल सकते हैं.

Q. सबसे अच्छा डिमैट अकाउंट कौन सा है?

ANS. भारत में सबसे अच्छे डिमैट अकाउंट Upstox, Angle One, ZERODHA, 5 PAISA है.

शेयर मार्केट के बारे में पढ़े:

Share Market क्या हैं? और शेयर मार्केट कैसे सीखे 5 तरीकें

शेयर मार्केट में पैसा कैसे लगाएं, आसान तरीके से समझें

अंतिम शब्द

हमने आपको इस पोस्ट में बताया है कि डीमैट अकाउंट क्या है? और Demat Account Kaise Khole? डीमैट अकाउंट खोलने की प्रक्रिया बहुत आसान होती है. आप बताये गए स्टेप्स को फॉलो करके Angle One पर डीमैट अकाउंट खोल सकते हैं.

Mukesh Saini

मेरा नाम मुकेश सैनी हैं. मैं HindiYukti.COM का फाउंडर हूँ, जहाँ पर आपको हिंदी में पैसे कमाने के तरीके, बिजनेस आईडिया, टेक्नोलॉजी, शेयर मार्केटिंग और क्रिप्टो से जुडी जानकारियां Detail में मिलती हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button